संदेश !
20 Apr 2019 5:44 PM
BREAKING NEWS
ticket title
नई दिल्ली: कुछ लोगों के लिए देश नहीं, परिवार और हित महत्वपूर्ण: पीएम
जम्मू-कश्मीर: Pulwama सीआरपीएफ काफिले पर हमले का मास्टर माइंड गाजी समेत तीन आतंकी ढेर, आर्मी का मेजर समेत चार जवान शहीद, DIG व ब्रिगेडियर घायल
भाजपा विधायक के बर्थडे प्रोग्राम में बीवी और गर्लफ्रेंड का हो गया सामना और फिर सरेआम ……
कोलकाता : विधायक हत्याकांड में हाईकोर्ट ने मुकुल रॉय की गिरफ्तारी पर लगायी रोक
इजराइल से 54 किलर ड्रोन की डील को भारत सरकार की मंजूरी
रांची: झारखंड के 70 हजार हजार पुलिसकर्मियों ने लगाया काला बिल्ला, फस्ट फेज का का आंदोलन शुरु
पीएम मोदी 17 फरवरी को डीसी लाइन पर पैसेंजर ट्रेन को हजारीबाग से दिखा सकते हैं हरी झंडी
राजस्थान: जैसलमेर में मिग-27 क्रैश पायलट सुरक्षित
सोरेन फैमिली ने ही झारखंड को सबसे ज्यादा लूटा: रघुवर
नई दिल्ली: NIA की जांच शुरु, आतंकी फंडिंग से बनीं मस्जिदों व मदरसों पर मनी लांड्रिंग के तहत होगी कार्रवाई

इन्वेस्टमेंट के लिए सबसे बेहतर झारखंड, देश की 40 फीसद खनिज संपदा हमारे पास: सीएम

Post by relatedRelated post

नई दिल्ली: झारखंड सरकार ने मंगलवार को नई दिल्ली के इंपीरियल होटल में राज्य के कृषि क्षेत्र को देश और दुनिया की नई तकनीक से जोडऩे और कृषि क्षेत्र में निवेश को आकर्षित करने के उद्देश्य से रोड शो किया. सीएम रघुवर दास के नेतृत्व में टीम झारखंड इस क्रम में विभिन्न देशों के राजदूतों के साथ बैठक भी कर रही है. झारखंड में 29 और 30 नवंबर को होने वाले ग्लोबल एग्रीकल्चर समिट की तैयारियों को लेकर इस रोड शो का आयोजन किया गया है.

सीएम रघुवर दास ने रोड शो में कहा कि झारखंड संभावनाओं से भरा प्रदेश है. हमारे पास देश की 40 फीसदी खनिज संपदा है. हमारे पास कौशलयुक्त मेहनतकश लोग हैं. राजनीतिक अस्थिरता के कारण झारखंड का विकास नहीं हुआ लेकिन अब एक स्थिर सरकार है जहां आपके पास निवेश के अपार मौके हैं. झारखंड में देश ही नहीं, दुनिया के विकसित राष्ट्रों की बराबरी करने की क्षमता है. कोई भी निवेशक तभी आयेगा, जब सरकार की नीति अच्छी हो, त्वरित निर्णय हो, पारदर्शी व्यवस्था हो.। झारखंड में आपको सब मिलेगा. सीएम ने कहा कि वर्ष 2017 में ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट के बाद से अबतक झारखण्ड में 354 इकाइयों का शिलान्यास हो चुका है जिसके जरिए 49 हजार करोड़ से अधिक का पूंजी निवेश हो चुका है. 62 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार प्राप्त हो चुका है. सीएम ने कहा कि 29-30 नवंबर को ग्लोबल

एग्रीकल्चर एंड फूड समिट का आयोजन किया जा रहा है. इसमें देश-विदेश की कृषि उत्पाद, तकनीक और सेवाएं प्रदान करने वाली कंपनियां शामिल होंगी. राज्य के किसानों और कृषि व्यवस्था से जुड़े सभी झारखंडवासियों को इससे लाभ होगा. गांवों के विकास पर सीएम ने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करनी है। इसके लिए फूड प्रोसेसिंग प्लांट को बढ़ावा दिया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि 2017 में झारखंड में 89 फूड प्रोसेसिंग यूनिट शुरु किए गए, आज पूरे राज्य में 212 यूनिट हैं. ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड समिट के दौरान 50 नए प्लांट लगेंगे. सीएम ने ग्लोबल एग्रीकल्चर समिट में शामिल होने के लिए विभिन्न देशों के राजदूतों और कंपनियों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया.  उन्होंने कहा वे फूड प्रोसेसिंग, कृषि और अन्य सेक्टरों में झारखण्ड में निवेश कर देश को आगे बढ़ाने में अपना सहयोग दें.

सीएम ने न्‍यू झारखंड के हैशटैग के साथ एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए लिखा कि 29-30 नवंबर को आयोजित होने वाली ग्लोबल एग्रीकल्चर एंड फूड समिट के लिए झारखंड सरकार कृषि के क्षेत्र में दुनियाभर के निवेशकों को आमंत्रित करती है. आइये झारखंड में निवेश करिए और विकास के भागीदार बनिये.

सीएम इस विशेष आयोजन के सिलसिले में अपनी टीम के साथ सोमवार को रात में ही दिल्ली पहुंच गये.  रोड शो और इंवेस्टर मीट के दौरान राज्य सरकार की ओर से नवंबर में होने वाले समिट के लिए विभिन्न देशों के राजदूतों व प्रतिनिधियों और निवेशकों को न्योता भी दिया गया. नई दिल्ली में सुबह 11 बजे से बैठक का सिलसिला शुरू है. इस दौरान निवेशकों को झारखंड में कृषि क्षेत्र और खाद्य एवं प्रसंस्करण के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों पर एक छोटी सी फिल्म भी दिखाई गयी.

इस रोड शो में सीएम रघुवर दास, कृषि मंत्री रणधीर सिंह, सीएस सुधीर त्रिपाठी सीधे निवेशकों से मुखातिब हुये. । कृषि सचिव पूजा सिंघल और उद्योग सचिव विनय कुमार चौबे ने सरकार की ओर से प्रस्‍तुति दी. रोड शो में आगे मुख्यमंत्री रघुवर दास निवेशकों के साथ वन-टू-वन बैठक भी करेंगे. विभिन्न स्तर पर होने वाली बैठकों के दौरान राज्य सरकार अपनी औद्योगिक और कृषि नीति से के बारे में लोगों को जानकारी देगी.

मनोंरजन / फ़ैशन

बंगाल में पूर्व सीएम अर्जुन मुंडा की सभा को नहीं मिली अनुमति
बंगाल में पूर्व सीएम अर्जुन मुंडा की सभा को नहीं मिली अनुमति

कोलकाता : भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद अब झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा को पश्चिम बंगाल में सभा करने से रोक दिया गया. श्री मुंडा बीच रास्ते से ही लौट गये. अर्जुन मुंडा संवाददाताओं से कहा कि बंगाल की सरकार जिस तरह से…

Read more

अन्य ख़बरे

Loading…

sandeshnow Video


Contact US @

Email: [email protected]

Phone: +9431124138

Address: Dhanbad, Jharkhand

WP Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com