संदेश ! हमारी सोच, आपकी पहचान !
संदेश ! हमारी सोच, आपकी पहचान !
18 Aug 2022 5:44 PM
BREAKING NEWS
ticket title
धनबाद में दो अतिरिक्त कोविड अस्पताल को मिली मंजूरी, पीएमसीएच कैथ लैब में दो सौ बेड का होगा कोविड केयर सेंटर
सांसद पुत्र के चालक की कोरोना से मौत, 24 घंटे में दो मौत से मचा हड़कंप
बेरमो से हॉट स्पॉट बने जामाडोबा तक पहुंचा कोरोना ! चार दिन में मिले 34 कोविड पॉजिटीव
विधायक-पूर्व मेयर की लड़ाई की भेंट चढ़ी 400 करोड़ की योजना
वाट्सएप पर ही पुलिसकर्मियों की समस्या हो जाएगी हल, एसएसपी ने जारी किया नंबर
CBSE की 10वीं और 12वीं परिणाम 15 जुलाई तक घोषित कर दिए जाएंगे
डीजल मूल्यवृद्धि का असर कहां,कितना,किस स्तरपर,किस रूप में पड़ेगा- पढ़े रिपोर्ट
झरिया विधायक से मिलने पहुंचे छोटे व्यवसायियों
पेट्रोलियम पदार्थ को लेकर झामुमो द्वारा विरोध प्रदर्शन
बिहार में आंधी-बारिश, ठनका गिरने से 83 लोगों की मौत

कांग्रेस जिला अध्यक्ष हत्याकांड : मुख्य आरोपी मुनेश बेंगलुरु से गिरफ्तार, 7 लोग हिरासत में

Post by relatedRelated post

हत्याकांड का मुख्य आरोपी मुनेश बेंगलुरु से गिरफ्तार! 

कांग्रेस जिला अध्यक्ष शंकर यादव के स्कोर्पियो को बम से उड़ाने का मामला।
   
कुल 7 लोग पुलिस हिरासत में, आज हो सकता है प्रेस कांफ्रेंस

कोडरमा। कांग्रेस जिला अध्यक्ष शंकर यादव के स्कोर्पियो को बम प्लांट कर उड़ा देने के मामले में पुलिस ने काफी हद तक सफलता प्राप्त कर ली है। पुलिस टीम ने पूर्व में हुए गोलीकांड के मुख्य आरोपी व इस हत्याकांड में भी आरोपी बनाए गए मुनेश यादव को गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही कुल 7 लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। मुनेश की गिरफ्तारी पुलिस टीम ने कर्नाटक बेंगलुरु से की है। संभावना जताई जा रही है कि पूरे मामले को लेकर कोडरमा में पुलिस पदाधिकारी सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी देंगे। साथ ही गिरफ्तार आरोपियों को प्रस्तुत किया जाएगा। जानकारी के अनुसार शंकर यादव को चंदवारा थाना क्षेत्र के ढाब थाम  इलाके में बम से उड़ाने के मामले को लेकर सीएम के निर्देश पर गठित एसआईटी की टीम पूरे मामले के लिए कई जगहों पर छापामारी कर रही थी। पुलिस टीम ने धनबाद, रांची, हजारीबाग के विभिन्न इलाकों में सुराग मिलने पर छापामारी की। इस दौरान मुख्य आरोपी मुनेश यादव के बारे में काफी जानकारी पुलिस टीम को मिली। इसके बाद वरीय पुलिस पदाधिकारी के निर्देश पर पुलिस की एक टीम बेंगलुरु के लिए रवाना हुई। यहां स्थानीय पुलिस के सहयोग से मुनेश यादव को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के बाद पुलिस उसे हवाई जहाज के माध्यम से लेकर कोलकाता पहुंची। देर रात पुलिस टीम के कोडरमा पहुंचने की उम्मीद है। हालांकि पूरे मामले को लेकर पुलिस के वरीय पदाधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं पर इनका दावा है कि मामले का करीब करीब खुलासा हो चुका है। एसपी शिवानी तिवारी ने बताया कि कुछ लोगों से पूछताछ चल रही है, कुछ आरोपियों की गिरफ्तारी बाकी है। उसके बाद ही मामले का खुलासा किया जाएगा। ज्ञात हो कि गत मंगलवार की शाम को अपराधियों ने चंदवारा थाना क्षेत्र के ढाब थाम क्षेत्र में शंकर यादव के स्कार्पियो को बम से उड़ा दिया था. इसमें शंकर यादव व उनके निजी अंगरक्षक कृष्णा यादव की मौत हो गई थी, जबकि गंभीर रूप से घायल चालक धर्मेंद्र यादव का इलाज रिम्स रांची में चल रहा है.

गोली कांड के बाद से चल रहा था फरार, दबाव बढ़ा तो पुलिस ने किया गिरफ्तार। 

हत्याकांड का मुख्य आरोपी मुनेश यादव पिछले बार हुए गोलीकांड के बाद से ही फरार चल रहा था। 24 अक्टूबर 2017 को शंकर यादव के खदान के पास आरोपी ने शंकर को गोली मारी थी। इस मामले में चौपारण पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था जबकि मुख्य आरोपी फरार चल रहा था। फरारी के दौरान ही उसने एक साजिश के तहत दोबारा शंकर यादव पर हमला किया और बम प्लांट कर हत्या कर दी। इस घटना के बाद पुलिस पर दबाव बढ़ा तो अब जाकर उसकी गिरफ्तारी हुई। ऐसे में पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठे हैं।

ऑटो में ही प्लांट किया गया था बम

इधर, पुलिस हिरासत में लिए गए आरोपियों से पूछताछ में यह भी स्पष्ट हो गया है कि शंकर यादव की हत्या के लिए पहले से खड़ी ऑटो में ही विस्फोटक रखा गया था। ऑटो में बम प्लांट कर स्कोर्पियो को उड़ाया गया। इसके लिए पास में ही अपराधी रेकी कर रहे थे। पुलिस टीम ने बम प्लांट करने, घटनास्थल पर ब्रेकर बनाने में सहयोग करने के आरोप में भी कुछ लोगों को पकड़ा है। इसके अलावा घटना के नक्सल कनेक्शन को लेकर स्पष्ट होने के बाद पुलिस इसमें शामिल सदस्यों का नाम सामने लाने का प्रयास कर रही है। संभावना जताई जा रही है कि देर रात पुलिस इस मामले में भी काफी कुछ स्पष्ट कर लेगी। इसके बाद सोमवार को मामले का खुलासा किया जाएगा।

खदान के जमीन विवाद को लेकर ही हत्या

इधर, पुलिस की अब तक की जांच में यह बात भी सामने आई है की शंकर यादव की हत्या लंबे समय से चल रहे पत्थर खदान के जमीन विवाद को लेकर ही की गई है. शंकर यादव के हजारीबाग जिला के चौपारण थाना क्षेत्र में स्थित पत्थर खदान के पास आरोपी मुनेश यादव पिता नाथो यादव निवासी भटबिगहा का भी पत्थर खदान है, पर जमीन विवाद के कारण करीब दस वर्ष से इस खदान में खनन का कार्य बंद है. वहीं शंकर यादव के खदान में खनन कार्य हो रहा था. यही नहीं शंकर के क्रशर प्लांट के सामने सड़क के दूसरे तरफ मुनेश यादव का भी क्रशर प्लांट है. यह उसने इन दिनों दूसरे को किराये पर संचालन के लिए दे रखा है.

मनोंरजन / फ़ैशन

रेमो डिसूजा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, 5 करोड़ की धोखाधड़ी का आरोप
रेमो डिसूजा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, 5 करोड़ की धोखाधड़ी का आरोप

धोखाधड़ी का यह मामला साल 2016 का बताया गया है एक प्रॉपर्टी डीलर ने रेमो डिसूजा पर 5 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाया था सेक्शन 420, 406, 386 के तहत एफआईआर दर्ज कराई गई गाजियाबाद । डांस की दुनिया के ग्रेंड मास्टर में शुमार मशहूर कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा के लिए एक बुरी…

Read more

अन्य ख़बरे

Loading…

sandeshnow Video


Contact US @

Email: swebnews@gmail.com

Phone: +9431124138

Address: Dhanbad, Jharkhand

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com