संदेश ! हमारी सोच, आपकी पहचान !
संदेश ! हमारी सोच, आपकी पहचान !
12 Dec 2019 5:44 PM
BREAKING NEWS
ticket title
रेमो डिसूजा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, 5 करोड़ की धोखाधड़ी का आरोप
मतगणना LIVE, मतगणना शुरू, महाराष्ट्र में भाजपा को बढ़त, हरियाणा में कांटे की टक्कर
धनबाद : भारी बारिश से कोयलांचल में जनजीवन अस्त-व्यस्त
धनबाद म्यूनिशिपल कॉरपोरेशन के वार्डों का रिजर्वेशन रोस्टर जारी
कोलकाता : CIL कंपनी CCL में अकाउंटेंट के 57 व ईसीएल में फोरमैन के लिए 75 वैकेंसी
धनबाद : गांजा तस्करी में इसीएल स्टाफ चिरंजीत घोष को जेल मामले में निरसा थानेदार व आईओ के खिलाफ होगी कार्रवाई
धनबाद : शारदीय नवरात्र एवं गांधी जयंती के शुभ अवसर पर “मातृशक्ति समारोह” का आयोजन
नियम व शर्तो के साथ मदर डेयरी का दूध हुआ 4 रुपये तक सस्ता
अब उत्तर प्रदेश से घुसपैठियों को किया जाएगा बाहर, NRC पर पुलिस प्रशासन ने तैयार किया प्लान
महात्मा गांधी जयंती पर जम्मू कश्मीर के नजरबंद नेताओं को बड़ी राहत

नई दिल्ली: कुछ लोगों के लिए देश नहीं, परिवार और हित महत्वपूर्ण: पीएम

Post by relatedRelated post

नई दिल्ली: प्राइम मिनिस्टर नरेंद्र मोदी सोमवार को नई दिल्ली इंडिया के गेट के समीप बने National War Memorial को राष्ट्र को समर्पित किया. पीएम ने पत्थर से बने स्तंभ के नीचे ज्योति प्रज्ज्वलित विधिवत उद्घाटन किया. 176 करोड़ रुपये की लागत से 40 एकड़ में National War Memorial का निर्माण एक साल में पूरा किया गया है. स्मारक में 16 दीवारों पर आजादी के बाद शहीद हुए 25,942 भारतीय सैनिकों के नाम, रैंक व रेजिमेंट ग्रेनाइट पत्थरों पर उल्लेख किया गया है. मुख्य संरचना को चार चक्रों के रूप में बनाया गया है, जिनमें से प्रत्येक सशस्त्र बलों के विभिन्न मूल्यों को दर्शाया गया है. चक्रव्यूह की संरचना से प्रेरणा लेते हुए इसे बनाया गया है. इसमें चार वृत्ताकार परिसर और एक ऊंचा स्मृति स्तंभ भी है, जिसके तले में अखंड ज्योति दीप्तमान रहेगी.

मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी ने मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में पूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए कहा देश पर संकट चाहें दुश्मन के कारण आया हो या प्रकृति के कारण आया हो, हमारे सैनिकों ने सबसे पहले हर मुश्किल को अपने सीने पर लिया है. हमारे देश की सेना दुनिया की सबसे ताकतवर सेनाओं में से एक है. पीएम ने कहा कि कई दशकों से लगातार राष्ट्रीय युद्ध स्मारक निर्माण की मांग हो रही थी, कुछ प्रयास हुए लेकिन कोई ठोस कार्य नहीं हुआ.आपके आर्शीवाद से हमने 2014 में इस स्मारक का कार्य शुरू किया और इस कार्य को तय समय पर पूरा किया. इस ऐतिहासिक स्थान पर मैं, पुलवामा में शहीद हुए वीर सपूतों, भारत की रक्षा में सर्वस्व न्योछावर करने वाले हर बलिदानी को नमन करता हूं.मैं राष्ट्र रक्षा के सभी मोर्चों पर, मुश्किल परिस्थितियों में डटे हर वीर-वीरांगना को भी नमन करता हूं. बहुत लंबे समय से आपकी मांग थी कि आपके लिए सुपर स्पेशिऐलिटी अस्पताल बनाया जाए. आज इस ऐतिहासिक अवसर पर मुझे आपको ये बताने का सौभाग्य मिला है कि एक नहीं बल्कि हम ऐसे तीन सुपर स्पेशिऐलिटी अस्पताल बनाने जा रहे हैं. वन रैंक वन पेंशन के लिए पिछली सरकारों में पूर्व सैनिकों को कितना संघर्ष करना पड़ा, आंदोलन करना पड़ा, इसका देश साक्षी रहा है. नया हिंदुस्तान, नया भारत, आज नई नीति और नई रीति के साथ आगे बढ़ रहा है. मजबूती के साथ विश्व पटल पर अपनी भूमिका तय कर रहा है. उसमें एक बड़ा योगदान आपके शौर्य, अनुशासन और सर्मपण है.

पीएम ने कांग्रेस खासकर नेहरू-गांधी परिवार पर तीखे हमले बोलते हुए कहा कि बोफोर्स से लेकर हेलिकॉप्टर तक सारी जांच का एक ही परिवार तक पहुंच जाना बहुत कुछ कह जाता है. उन्होंने कांग्रेस पर देश की राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ का आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ लोगों के लिए देश पहले नहीं, बल्कि परिवार और परिवार के हित पहले हैं. मोदी ने कहा कि उन्होंने सेना और देश के साधनों को अपनी कमाई का साधन बना लिया था. अब यही लोग पूरी ताकत लगा रहे हैं कि भारत में राफेल विमान आ ही न सके. अगले कुछ महीनों में जब देश का पहला राफेल भारत के आसमान में उड़ान भरेगा तो इनकी सारी कोशिशों, सारी साजिशों को खुद की ध्वस्त कर देगा.’

पीएम ने वन रैंक वन पेंशन को मंजूरी, सेना के लिए बुलेटप्रूफ जैकेटों और आधुनिक सैन्य साजो-सामानों, हथियारों की खरीदारी समेत अपनी सरकार द्वारा सेना और शहीदों के परिवारों के हित में लिए गए फैसलों का उल्लेख किया.उन्होंने कहा, ‘देश की सेना को मजबूत करने के लिए हमारी सरकार आधुनिक सैन्य साजो-सामानों और हथियारों से लैस कर रही है. दशकों से रूके हुए सौदों को प्राथमिकता दी जा रही है. हाल ही में सरकार ने 72 हजार आधुनिक राइफलों की खरीदी का ऑर्डर दिया है. 25 हजार करोड़ रुपये के गोले-बारूद को मिशन मोड में खरीदा है.’ ‘देश की सुरक्षा के साथ कितना बड़ा खिलवाड़ किया गया, साल 2009 में सेना ने एक लाख 86 हजार बुलेट प्रूफ जैकेट की मांग की थी. साल 2009 से लेकर 2014 तक पांच साल बीत गये, लेकिन सेना के लिए बुलेटप्रूफ जैकेट नहीं खरीदी गयी. हमारी सरकार ने ने बीते साढ़े चार वर्षों में दो लाख 30 हजार से ज्यादा बुलेट प्रूफ जैकेट खरीदी है.’

मोदी ने कहा कि शहीदों के साथ, हमारे नायकों के साथ यह बर्ताव क्यों किया गया. शहीदों के परिवारों के साथ, देश के लिए खुद को समर्पित करने वाले महानायकों के साथ इस तरह का अन्याय क्यों किया गया. इंडिया फर्स्ट या फैमिली फर्स्ट? इंडिया फर्स्ट और फैमिली फर्स्ट का जो अंतर है, वही इसका जवाब है. स्कूल से लेकर अस्पताल तक, हाइवे से लेकर एयरपोर्ट तक, स्टेडियम से लेकर हर जगह एक ही परिवार का नाम लिखा देखते आ रहे हैं. इसलिए सरकार में आने के बाद हम स्थिति को बदलने में जुट गये. चाहे नेताजी सुभाषचंद्र बोस हों, चाहे सरदार पटेल या फिर बाबा साहेब आंबेडकर…हमने उन्हें सम्मान देना शुरू किया.’ उन्होंने कहा कि देश के लिए वह महत्वपूर्ण नहीं हैं, बल्कि देश की सभ्यता और उसका इतिहास अहम है. ‘मेरा यह स्पष्ट मानना है कि मोदी महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि इस देश की सभ्यता, संस्कृति और इतिहास सबसे ऊपर है. मोदी याद रहे न रहे, परंतु इस देश के करोड़ों लोगों के त्याग, तपस्या, समर्पण, वीरता और उनकी शौर्यगाथा अजर-अमर रहनी ही चाहिए.’
मोदी ने शहीदों को नमन करते हुए कहा, ‘जीये तो भी देश के लिए, मरे भी तो देश के लिए, जीए भी तो तिरंगे के लिए और मरे भी तो तिरंगा ओढ़कर, ऐसे वीर सपूतों को मैं नमन करता हूं.

मनोंरजन / फ़ैशन

रेमो डिसूजा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, 5 करोड़ की धोखाधड़ी का आरोप
रेमो डिसूजा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, 5 करोड़ की धोखाधड़ी का आरोप

धोखाधड़ी का यह मामला साल 2016 का बताया गया है एक प्रॉपर्टी डीलर ने रेमो डिसूजा पर 5 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाया था सेक्शन 420, 406, 386 के तहत एफआईआर दर्ज कराई गई गाजियाबाद । डांस की दुनिया के ग्रेंड मास्टर में शुमार मशहूर कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा के लिए एक बुरी…

Read more

अन्य ख़बरे

Loading…

sandeshnow Video


Contact US @

Email: [email protected]

Phone: +9431124138

Address: Dhanbad, Jharkhand

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com